"उम्मीद का साथ न छोडें" -- मेरी एक रचना

  

उपर दिया हुआ चित्र मुझे मेरे फेसबुक न्यूज़ फीड में मिला और इसने मेरा ध्यान आकर्षित किया। यह चित्र न सिर्फ ये बताता है कि हमें अपनी ज़िन्दगी में कभी भी उम्मीद नहीं छोड़नी चाहिए वरन ये भी बताता है की हम वक़्त के साथ बेहतर होते जाते हैं और ये हमें हर बुरी स्थिति से लड़ने के लिए मजबूत बनता है। इसी प्रेरणा से अपने विचार रुपी सामग्री को दिमाग रुपी मिल में चलाने से कुछ पंक्तियाँ उभर कर आयीं जो यहाँ नीचे एक कविता की तरह लिखी है। कितनी अद्भुत बात है की कल ही मैंने अपने blog  पोस्ट में कहा था की मैं कवितायेँ बनाने में अक्सर फेल हो जाती हूँ मगर देखिये आज ही मैंने कुछ एक बना ही लिया। सच ही कहा है...कोई नहीं जनता कल आपके लिए क्या लेकर आएगा (you never know what tomorrow will bring)। मुझे आज ख़ुशी है की मैं अब धीरे धीरे कवितायेँ बनाने में थोड़ी बहुत सफल हो रही हूँ। उम्मीद करती हूँ की आप को ये पसंद आएगी। 

विशेष: कविता मूलतः जिस भाषा में लिखी जाए, उसे उसी भाषा में पढने से इसका असल मतलब समझ  आता है। मैंने ये कविता english में बनायीं तो इसे यहाँ उसी भाषा में लिख रही हूँ।  किसी भी तरह की असुविधा के लिए खेद है।

Life is beautiful,
Life is boon;
Live it to its best,
And see the magic soon.

Life has its way of teaching,
Only if you are are willing;
Live today and dream about tomorrow,
Let's brush up your every sorrow.

Hope, passion and dream,
Three musketeers for you to win;
Don't lose hope,
And never lose YOU--
Get the best while you grow.

इसी पोस्ट को english में यहाँ पढ़ें













Comments

Popular posts from this blog

निर्भया के लिए अमिताभ बच्चन की विलक्षण श्रद्धांजली

क्या प्यार ही सब कुछ है ?